Author: sahityaprit

स्वतंत्रता की प्रतिमूर्ति महात्मा गांधी

  – दुर्गेश मोहन भारत के गगनांगन में स्वतंत्रता की प्रतिमूर्ति महात्मा गांधी का योगदान चिरस्मरणीय रहेगा। इन्होंने अपने त्याग,…

साहित्य + स्वत : सुखाय + छपास + नाम = पारिश्रमिक ठनठन पाल

    लेखक कलम का मजदूर है तो, रचना का प्रकाशन औऱ परिश्रमिक उसकी मजदूरी है !: सिद्धेश्वर पटना !…

मइया हो

  – विद्या शंकर विद्यार्थी देवी गीत गरवा सोहेला चन्दर हार, मुकुटवा माथे सोहेला हो, मइया हो, उड़हुल के करितु…