Spread the love

बबिता प्रजापति

उस लवली सी लड़की को देखकर

आंखें 2+2=4  हुईं

लगाने लगे हम सर्कल जैसे उसके चक्कर

बातें फिर 1000 हुई।

जब उसके दोनों होंठ

Multiply होते है,

मेरे दिल मे अनगिनत

सुरों को पिरोते हैं।

इमोशन फिर न हाईड किये

सुख दुख हमने डिवाइड किये।

फिर करने को हमारा addition

पिताजी से उसके किया subtraction,

क्योंकि लव की मैथ का

यही आखिरी सलूशन।।।

Leave a Reply

Your email address will not be published.