Spread the love

 

 

– सिद्धेश्वर

बीते हुए साल की
खट्टी मीठी यादें !
छोड़ जाएंगे हम
वक्त के सिरहाने !!
हम ढूंढ ही लाएंगे.
नए साल में,
खोया हुआ वह ,
रंगीन सपने सुहाने !!

Leave a Reply

Your email address will not be published.