Spread the love

 

 

-रघुराज सिंह कर्मयोगी

समझा गया अर्थ जीवन का जाने वाला साल।

हंसी खुशी से करें विदाई रिश्ते हों खुश हाल।  1

करो प्यार से नये वर्ष का वंदन स्वागत आदर।

चुनौतियों से लड़े वर्ष भर देश के अंदर बाहर।  2

कोरोना ने  हमें  दिया था, शूल हृदय के अंदर।

इसे हराया मास्क पहन कर दूरी अपनाकर।  3

महिलाओं का मान करें भारत को स्वर्ग बनाएं।

परिवारों मेँ प्यार लुटाकर सुख समृद्धि लाएं।  4

वृद्धजनों की लाठी बन कर गीत प्रेम के गाएं।

गद्दारों को चुन  चुन मारें, मांथे तिलक लगाए’।  5

किसान मरे ना कहीं भूख से ना कोई मजदूर।

सैनिक सीमा पै पहरा दे घर मेँ गेहूं हों भरपूर।  6

लहराएगा  परचम  जग  में भारतवर्ष  हमारा।

अभिनंदन है आने  वाले नूतन वर्ष  तुम्हारा।  7

 

  • पता- 1059/B , 3rd एवेन्यू,

आदर्श कॉलोनी डडवाड़ा

कोटा जं. 324002

Mo.-8118830886

8003851458

मेल[email protected]

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *